आई.पी.आर.एस. का संचालन और उपयोग

आई.पी.आर.एस. मनुष्य या पशुओं के लिए दवाओं या चिकित्सा उपकरणों के रूप में देने के लिए नहीं बने हैं। वे केवल भारतीय भेषजसंहिता के अनुसार परीक्षण और परख के लिए बनाए गए हैं। आई.पी.आर.एस. को खोलने के बाद तुरंत इस्तेमाल किया जाना चाहिए, आई.पी.आर.एस. के किसी भी अप्रयुक्त भाग को संग्रहीत और पुन: उपयोग में लाया जा सकता है जिसकी पूरी जिम्मेदारी उपयोगकर्ता की है।

 

आई.पी.आर.एस. के प्रभावी उपयोग के लिए निम्नलिखित बातों का अनुसरण किया जा सकता है:

1.  यदि आई.पी.आर.एस. को कम तापमान पर रखा गया है, तो शीशी खोलने से पहले कमरे के तापमान तक पहुंचने दें। 2. शीशी के अंदर किसी भी स्थिरता को दूर करने के लिए, डाट को हटाने या स्थिरता-विरोधी युक्ति का उपयोग करने से पहले शीशी को थपथपाएं। 3. संचालन चरणों को कम करें। सामग्रियों को वॉल्यूमेट्रिक फ्लास्क या अन्य प्रयोगशाला के कांच के बने बर्तन में सीधा तौलें, जिसका उपयोग घोल तैयार करने के लिए किया जा रहा हो। इस प्रकार स्थैतिक होने के कारण सामग्री खोने का जोखिम कम हो जाएगा । 4. एक मुड़े शीर्ष वाला स्पेचुला एक सामान्य तौलने वाले स्पेचुला की तुलना में अधिक प्रभावी हो सकता है।

 

आई.पी.आर.एस. का भंडारण

आई.पी.आर.एस. को 2˚C से 8˚C के बीच भंडारित किया जाना चाहिए।

 

विश्लेषण का प्रमाण पत्र

भारतीय भेषजसंहिता आयोग आईपीआरएस के लिए विश्लेषण का प्रमाण पत्र (सीओए) प्रदान नहीं करता है। विश्लेषण के उद्देश्य के लिए, संदर्भ पदार्थों का परख मूल्य अंश (‘जैसा है’ के आधार पर) आईपीआरएस के लेबल पर दिया जाता है।

 

समाप्ति तिथि

आई.पी.आर.एस. के लेबल पर कोई समाप्ति तिथि नहीं दी गई है। जब तक कि आईपीआरएस आई.पी.सी. वेबसाइट www.ipc.gov.in पर वर्तमान लॉट संख्या के रूप में दिखाई देता है यह आई.पी.आर.एस. उपयोग के लिए वैध है । मौजूदा लॉट संख्या हमेशा वेबसाइट पर सूचीबद्ध होती है पिछले लॉट संख्या की वैधता वेबसाइट पर पिछले लॉट संख्या के सबस्क्रिप्टॅ के रूप में दी जाती है। आईपीआरएस के लगातार उचित उपयोग की पुष्टि करने के लिए इसको नियमित रूप से पुनः परखा जाता है।

 

आई.पी.आर.एस. की खरीद:

आई.पी.सी. वेबसाइट पर उपलब्ध सूची के अनुसार आईपीआरएस की अपनी आवश्यकता का पता लगाएं। वेबसाइट से आपूर्ति आदेश फार्म डाउनलोड करें, इसे पूरी तरह से भरें और डिमांड ड्राफ्ट के साथ निम्नलिखित पते पर अपना पूरा आपूर्ति आदेश फ़ॉर्म भेजें।

सचिव-सह-वैज्ञानिक-निदेशक, भारतीय भेषजसंहिता आयोग, स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय, भारत सरकार, सेक्टर -23, राज नगर, गाजियाबाद, भारत-201002।

एक आईपीआरएस की 2 से अधिक शीशियों की खरीद के लिए, हितधारकों को आई.पी.सी. से ईमेल, फैक्स, या टेलीफोन द्वारा संपर्क करके उपलब्धता की जांच करने की सलाह दी जाती है।

नोट: आई.पी.आर.एस. आपूर्ति की प्रक्रिया आवश्यक राशि का वास्तविक डिमांड ड्राफ्ट प्राप्त करने के बाद ही शुरू होगी।

नवीनतम समाचार


सभी देखें

आईपीसी उत्पाद

 
आईपीसी से जुड़ें